Published On: Wed, May 9th, 2018

कर्नाटक चुनावः ID कार्ड पर सियासत तेज, सिद्धारमैया ने लगाए यह आरोप

Share This
Tags

कर्नाटक चुनाव के लिए मतदान से पहले बेंगलुरु के फ्लैट में मिले 9746 वोटर आईडी कार्ड को लेकर सियासत तेज हो गई है। कार्ड्स बरामद होने के बाद चुनाव आयोग ने जलहल्ली इलाके में बने एसएलवी पार्क के फ्लैट नंबर 115 की कब्जे में लेते हुए वहां मौजूद प्रिंटर्स व अन्य सामान जब्त कर लिया है। इस बीच कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए फ्लैट की मालकीन मंजुला को लेकर कई खुलासे किए।

वहीं दूसरी तरफ सिद्धारमैया ने केंद्र पर सराकरी मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप लगाया है।

सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए मीडिया को न्यूज रिपोर्ट्स की कटिंग दिखाते हुए कहा कि इसमें निकाय चुनाव के नतीजों की खबर है और हारने वालों में भाजपा की मंजुला नंजामुरी का नाम भी है। वो एचएमटी वार्ड की पूर्व कॉर्पोरेटर थीं और जलहल्ली से चुनाव लड़ा था।

उन्होंने एक और कटिंग दिखाते हुए दावा किया कि फ्लैट में किराए से रह रहे राकेश जो कि मंजुला का बेटा है को भाजपा अपना कार्यकर्ता नहीं मानती। लेकिन 2015 में भाजपा के कार्पोरेशन उम्मीदवारों की लिस्ट में वो भाजपा का उम्मीदवार था।

सिद्धारमैया ने लगाए यह आरोप

वहीं दूसरी तरफ सिद्धारमैया ने आरोप लगाया कि क्या चुनाव आयोग का काम जांच करना है? मुझे इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहना। कांग्रेस लगातार भाजपा सरकार के सर्विलांस में है। यह 12वीं बार है जब में चुनाव लड़ रहा हूं लेकिन ऐसा पहली बार हो रहा है कि इस तरह के छापे पड़ रहे हैं। वो लोग सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रहे हैं।

जिसका नाम आ रहा वो नहीं रहता फ्लैट में

इस बीच पूरे मामले में मंजुला नंजामुरी के बेटे का बयान आया है। उसने कहा है कि मीडिया में जिस राकेश को मंजुला का बेटा बताया जा रहा है वो असल में मेरी मां के भतीजे का बेटा है और उसका इस फ्लैट से कोई संबंध नहीं है। वह फ्लैट रंगाराजू को किराए पर दिया गया था।

बता दें कि मंगलवार को चुनाव आयोग के उड़नदस्ते ने फ्लैट पर छापा मारते हुए वहां से 9746 वोटर आईडी कार्ड बरामद किए थे। इसका खुलासा होने के बाद से ही भाजपा और कांग्रेस एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं।

About the Author

Leave a comment

You must be Logged in to post comment.