Published On: Sat, Aug 11th, 2018

गावस्कर ने बताया कि किस बदलाव के साथ कोहली बने बेस्ट

Share This
Tags

भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में विराट कोहली की बल्लेबाजी की तारीफ करते हुए उनकी सफलता का श्रेय बल्ले की रफ्तार में बदलाव को दिया। चार साल पहले इंग्लैंड दौरे पर नाकाम रहे कोहली ने पहले टेस्ट में सेंचुरी ठोकी हालांकि भारत को हार से नहीं बचा सके। उसी मैच की दूसरी पारी में विराट ने 51 रनों का योगदान दिया था। हालांकि लॉर्ड्स के मैदान पर पहली पारी में विराट 23 रन बनाकर आउट हो गए।

गावस्कर ने कहा, ‘ये जबर्दस्त था। उसने बल्ले की रफ्तार में कुछ बदलाव किया है। 2014 में वह ऑफ स्टम्प से बाहर जाती गेंदें नहीं खेल पा रहा था। अब वो गेंद के आने का इंतजार करता है।’ उन्होंने कहा, ‘उसने जो बदलाव किया है, मानसिक रूप से खुद को ढाला है, वो असाधारण है। यही वजह है कि वो रन बना सका है। ये मामूली सा तकनीकी बदलाव है कि वो शरीर के पास नहीं खेल रहा।’ गावस्कर ने कहा कि इंग्लैंड में फुटवर्क और संयम की काफी जरूरत होती है। उन्होंने कहा, ‘वहां फुटवर्क और संयम काफी अहम है क्योंकि गेंद उछलकर आती है। हम उसकी अपेक्षा नहीं कर रहे थे क्योंकि जून जुलाई में वैसे वहां मौसम भारत जैसा ही होता है। उपमहाद्वीप के खिलाड़ियों के लिए ये आसान नहीं होता और यही वजह है कि मैं कहता रहता हूं कि हमें लाल गेंद का क्रिकेट अधिक खेलना चाहिए।’

About the Author

Leave a comment

You must be Logged in to post comment.