Published On: Sun, Jul 16th, 2017

देश के कई राज्यों में मानसून ने पकड़ी रफ्तार , नदियों का वाॅटर लेवल बढ़ा

Share This
Tags
rain11गुजरात, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत देश के कई राज्यों में मानसून ने रफ्तार पकड़ ली है। गुजरात के मोरबी, सुरेंद्रनगर और राजकोट में शुक्रवार रात से बारिश हो रही है। यहां कई डैम ओवरफ्लो हो गए, नदी-नाले भी उफान पर हैं। बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए एनडीआरएफ और एयरफोर्स की मदद ली जा रही है। वहीं, असम में बाढ़ के हालात बेकाबू हैं और अब तक 52 लोगों की मौत हो चुकी है। जम्मू-कश्मीर और महाराष्ट्र में भी अच्छी बारिश हो रही है। चोटिला में 17.71इंच पानी बरसा
गुजरात
यहां के मोरबी, सुरेंद्रनगर और राजकोट जिले में भारी बारिश के बाढ़ के हालात बन चुके हैं। कई डैम ओवरफ्लो हो गए, नदी-नाले उफान पर हैं। लोगों को सेफ जगहों पर पहुंचाया गया है। यहां शनिवार को रेस्क्यू ऑपरेशन में एयरफोर्स की मदद ली गई। जामनगर के एक गांव में बाढ़ के बीच फंसे 12 लोगों को बचाया गया। सरकारी आंकड़ों की मानें तो पिछले 24 घंटे में जामनगर के चोटिला में 450 मिलीमीटर यानी 17.71 इंच बरसात हुई। इसके चलते धोलीधजा, नायका, सबुरी, मोरसल समेत 5 डैम ओवरफ्लो हो गए। टंकारा में बादल फटने से बारिश का पानी सड़कों से होते हुए घरों में घुस गया। राजकोट शहर में सुबह 11 बजे तक 400 मिलीमीटर बारिश हुई।  सीएम विजय रूपाणी ने बाढ़ के हालात को लेकर सुबह एक इमरजेंसी मीटिंग की। सीएम ने कहा कि अफसरों को चौकन्ना रहना होगा, क्योंकि वेदर डिपार्टमेंट ने अगले 48 घंटे में भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मदद पहुंचाने के लिए टंकारा और चोटिला में एनडीआरएफ की टुकड़ियां भेजी गई हैं।
असम नॉर्थ ईस्ट राज्यों में भारी बारिश के बाद बाढ़ के हालात बने हुए हैं। शनिवार को तीन लोगों की जान चली गई। बाढ़ से राज्य में अब तक 52 लोगों की मौत हुई है। यहां 25 जिलों के 15 लाख लोगों पर असर पड़ा है। काजीरंगा नेशनल पार्क का आधे से ज्यादा हिस्सा पानी में डूबा है। जानवरों की जान भी खतरे में है।
– ब्रह्मपुत्र नदी गुवाहाटी, जोरहाट, तेजपुर और सोनितपुर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।
मध्य प्रदेश  झाबुआ जिले में पिछले तीन दिन से जारी बारिश के चलते पेटलावद के कई सरकारी ऑफिस में पानी घुस गया। बारिश के चलते कई नदी-नाले उफान पर हैं।
– पिछले 24 घंटों में झाबुआ में 16, थांदला में 26, पेटलावद में 24, रानापुर में 15 और मेघनगर में 18 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। जिले में अब तक कुल 276 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई है।
जम्मू-कश्मीर बारिश और लैंडस्लाइड के चलते बंद हुआ 300 किलोमीटर लंबा जम्मू-श्रीनगर हाईवे शनिवार को खुल गया। यह हाईवे कश्मीर घाटी को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ता है। यहां मेहर, रामबन समेत कई जगहों पर शुक्रवार रात लैंडस्लाइड हुआ था।
ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक, बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन की टीम मलबा हटाने में लगी है। फिलहाल हल्के वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है।
भारी बारिश के चलते डोडा जिले में एक मकान ढह गया। इसमें एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत हो गई।
राजस्थान शुक्रवार से प्रदेश के कई इलाकों में बारिश का दौर जारी है। बांसवाड़ा और पीपलखुंट में 24, झालावाड़ में 23, माउंटआबू में 19, डूरंगपुर में 13 सेंटीमीटर बारिश हुई।
महाराष्ट्र मानसून महाराष्ट्र के कई इलाकों में फैल चुका है। इससे किसानों ने राहत की सांस ली है। शनिवार को नासिक में तेज बारिश हुई, जिससे शहर के कई इलाके और सड़के पानी में डूब गईं। शुक्रवार रात हुई बारिश के चलते गोदावरी नदी उफान पर चल रही है।
 दिल्ली  यहां शनिवार को धूप निकली रही, लेकिन शाम को बादल घिर आए। राजधानी के कई इलाकों में झमाझम बारिश हुई। यहां मैक्सिमम टेम्परेचर 36.4 और मिनिमम टेम्परेचर 28.4 डिग्री दर्ज किया गया।
 उत्तराखंड  देवभूमि उत्तराखंड में भी बारिश ने जोर पकड़ लिया है। पहाड़ी इलाकों में नदियां उफान पर हैं। कुछ जगहों पर बारिश की वजह से लैंडस्लाइड हुआ है। स्टेट डिजास्टर फोर्स ने हरिद्वार में गंगा नदी में डूब रहे एक कांवड़िये को बचा लिया।

About the Author

Leave a comment

You must be Logged in to post comment.