Published On: Fri, Aug 3rd, 2018

CM के सम्मान का मतलब यह नहीं कि मैं चुप रहूंगा: नवजोत सिंह सिद्धू

Share This
Tags

पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने गुरुवार को कहा कि वह मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह द्वारा लिए गए निर्णयों का सम्मान करते है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह चुप बैठे रहेंगे। क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू ने कहा कि वह उन लोगों के लिए उत्तरदायी है जिन्होंने हमें ‘मूक और बधिर’ बनने के लिए वोट नहीं दिए हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं लोगों के प्रति जवाबदेह हूं। मैं सीएम साहब का सम्मान भी करता हूं। उनकी राय उनकी है और मेरे पास अपनी राय है।’

पूर्व की बादल सरकार के खिलाफ कई आरोप लगाने वाले सिद्धू ने कहा, ‘यदि कोई राजनेता या अधिकारी राज्य को लूटने में शामिल पाया जाता है तो उसे मुक्त नहीं किया जाना चाहिए। उसकी संपत्तियों को कुर्क किया जाना चाहिए। गलत करने वाले को दंड़ित करना न्याय है। मैं इसे प्रतिशोध नहीं मानता हूं। मैं इसे न्याय समझता हूं।’ सिद्धू ने कहा, ‘मैं सीएम साहब का सम्मान करता हूं क्योंकि उनका फैसला अंतिम है।’

अवैध कालोनियों के नियमितीकरण की नीति पर सिद्धू ने कहा, ‘हम मुख्यमंत्री द्वारा लिये जाने वाले किसी भी फैसले का पूरा सम्मान करते हैं। लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि मैंने चुप्पी साध ली है। क्या लोगों ने मूक बधिर बनने के लिए हमे वोट दिया था?’

आम आदमी पार्टी में चल रही खींचतान के मुद्दे पर सिद्धू ने आरोप लगाया कि यह पार्टी अकाली दल की ‘टीम बी’ है। सिद्धू ने विश्वास जताया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अगले प्रधानमंत्री बनेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी युवाओं को रोजगार समेत अपने वादों को पूरा करने में विफल रहे है। कश्मीर पर पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री इमरान खान के रूख पर प्रतिक्रिया पूछे जाने पर सिद्धू ने कहा कि वह इस मुद्दे पर हमेशा भारत सरकार के साथ है।

About the Author

Leave a comment

You must be Logged in to post comment.